14 Best Business tips: व्यापार में सफलता के लिए | About business in hindi

You are currently viewing 14 Best Business tips: व्यापार में सफलता के लिए | About business in hindi
about business in hindi

About business in hindi : हमारे सामने उदाहरण के तौर पर हजारों लोग मौजूद हैं, जिन्होंने बहुत कम में या कुछ ना होते हुए भी व्यापार (business) की नीव रखी और बहुत अधिक सफल भी हुए….

बेसक अपनी लगन, और मेहनत से एक व्यापारी businessman को व्यापार (business) में सफल होने के लिए एक नहीं बल्कि अनेक गुणों में निपुण होना होता है. क्योंकि व्यापार (business) के सफल होने के पीछे अनेक factors शामिल होते हैं.

आज के इस लेख – व्यापार क्या है सम्पूर्ण जानकारी (about business in hindi) में हम व्यापार से संबंधित सभी basic व महत्वपूर्ण जानकारियों को जानने का प्रयास करेंगें।

विषय-सूची

व्यापार क्या है? परिभाषा

व्यापार को अनेक तरह से परिभाषित किया जा सकता है जिनमे से कुछ की सूची नीचे दी गई है –

सरल शब्दों में कहा जाये तो – वस्तु व सेवाओं के क्रय-विक्रय को व्यापार (business) कहते हैं। व्यापार के अनेक नाम हैं जैसे -बिजनेश, धंधा, कारोबार इत्यादि।

अन्य परिभाषाएं…..

  1. लोगों को उनकी जरुरत की चीजें उपलब्ध कराना और बदले में लाभ कमाना व्यापार कहलाता है।
  2. पैसे कमाने के उद्देश्य से उत्पादित वस्तुओं को ग्राहकों तक पहुँचाना व्यापार (business) कहलाता है।
  3. दो या दो से अधिक लोगों, राज्यों और देशों के बीच वस्तु तथा उसके मूल्य का आदान-प्रदान व्यापार कहलाता है।

व्यापार की सफलता के लिए बेहतरीन जानकारी – About business success in hindi

एक सफल व्यापार के लक्ष्य के लिए ज्ञान और जानकारियों का होना बहुत ही आवश्यक है. आपने व्यापार के मामले में अधिकतर सुना होगा कि जो अधिक पढ़ नहीं सकते, पढाई में कच्चे होते है, डिग्रियां हासिल नहीं कर पाते वह व्यापार करते हैं. परन्तु यह सरासर गलत है….. even एक बिजनेस चलाने के लिए आपको दूसरों से ज्यादा ज्ञान अर्जित करना होता है.

एक बिजनेसमेन ताउम्र सीखता रहता है और नए-नए risk लेता है, परन्तु रोजगार में आप एक बार नौकरी पा लेने के पश्चात थोड़े आलसी हो जाते हैं. नए चीजों के बारे में सीखना बंद कर देते हैं. एक तरह बिजनेस में आपका मष्तिष्क विकसित होता जाता है तो वही दूसरी तरह नौकरी में आप अपने मष्तिष्क को सिमित कर लेते हैं.

1. व्यापार के लिए योजना बनाये

योजना बनाना व्यापार की नीव रखना है, बिना योजना के किसी बिजनेस का सहीं तरह से संचालन नहीं किया जा सकता। यह शुरुवाती कदम है जिसे हर बिजनेसमैन अपने बिजनेस के प्रारंभ में पहले plan करता है।

इसके अंतर्गत यह आंकलन किया जाता है कि बिजनेस का स्वरुप कैसा होगा। उत्पादन या प्रोडक्ट पर कितने खर्चे किये जायेंगे। कितने लोगों की आवश्यकता पड़ेगी। विज्ञापनों पर कितने खर्चे किये जायेंगे, कितने पैसों की आवश्यकता पड़ेगी इत्यादि।

2. व्यापार से संबंधित सभी स्किल्स सीखें

जब हम बिजनेस की शुरुवात करते हैं तब हमें उससे संबंधित सभी जानकारियां व स्किल्स नहीं होती जो कोई बुरी बात नहीं है। परन्तु समय के साथ हम business skills और जानकारियों को नहीं सीखेंगे तो यह बिल्कुल गलत होगा।

हमें लगातार अपने skills के प्रति कार्य करना चाहिए तथा नई-नई चीजे सीखनी चाहिए। क्योंकि आज का समय नई-नई टेक्नोलॉजी व लगातार परिवर्तन का समय है। ऐसे में समय के साथ अपडेट ना रहने पर हम बहुत पीछे रह जाएयेंगे।

और अपने व्यापार में कुछ नया नहीं कर पाएंगे। अतः व्यापार में सफल होने के लिए अपने skills के ग्रोथ को बेहतर से बेहतर बनायें।

3. व्यापार को अपना 100% दीजिये

अपने व्यापार के प्रति पूरी तरह प्रेम और समर्पण रखिये, आप हर तरह से अपने बिजनेस को 100% दीजिये। दिन-रात, सोते-जगते आपके दिमाग में अपने बिजनेस को लेकर thoughts आने चाहिए कि किस तरह व्यापार को सफल बनाया जाये।

क्या नया और अलग है जिसे मुझे करना चाहिए, जो बिजनेस के लिए फायदेमंद हो, इत्यादि। व्यापार में आप प्रतिदिन एक प्रतिशत का सुधार कर सकते हैं इस तरह देखा जाये तो साल में 365% का सुधार आपके व्यवसाय (business) में संभव है।

4. बाजार सर्वेक्षण करें

यह भी व्यापार की शुरुवाती प्रक्रिया है जिसके माध्यम से यह पता लगाया जा सकता है कि किन वस्तुओं की मांग बाजार में अधिक है। लोगों की मानसिकता क्या है। उन्हें किस तरह की चीजे पसंद है, लोगों की जरुरत क्या है ।

किस तरह की वस्तु उत्पादित की जाये व बेचा जाये जिनसे लाभ कमाने के अवसर अधिक हो इत्यादि का आंकलन, व्यापार के प्रमुख चरण है। यह स्वोट विश्लेषण के अंतर्गत आने वाली प्रक्रिया है आप अपने व्यापार को सफल और सुरक्षित बनाना चाहते हैं तथा प्रतिस्पर्धा और अपनी कमजोरियों को जानना चाहते हैं तो SWOT analysis का प्रयोग अवश्य करें।

5. अपने व्यापार को क़ानूनी रजिस्टर्ड रखें

अपने व्यवसाय संबंधित सभी कागज पूरा करें तथा क़ानूनी रूप से सहीं बिजनेस करें। बड़े-बड़े व्यापारों के लिए अनेक प्रकार के लीगल कागजी कार्यवाही पुरे करने होते हैं,

जैसे – इन्सुरेंस, सरकार को विभिन्न प्रकार के कर प्रदान करने होते हैं इन्हे पुरा करें। ताकि भविष्य में आपको किसी प्रकार की परेशानियों का सामना ना करना पड़े।

6. व्यापार में कुछ नया करें

व्यापार में नया करने से तात्पर्य उस तरह के बिजनेस से नहीं है जो पहले बिल्कुल भी नहीं किया गया हो। क्योंकि almost सारे बिजनेस किये जा चुकें हैं और जो नहीं किये गए है उन बिजनेस को करने में थोड़ा रिस्क है।

क्योंकि वह बिल्कुल नया हैं, इसलिए लोग उसे पसंद करेंगे या नहीं इसकी कोई गारंटी नहीं है। आप पुराने व्यापार जो शुरू से चलते आ रहे हैं उनसे ही शुरुआत कर सकते हैं परन्तु कुछ अलग व नयापन के साथ तथा बेहतर तरीके से।

7. लोगों को आपसे क्या उम्मीद है वह करिये

एक बिजनेसमैन का दिमाग बहुत अधिक शार्प होना चाहिए । वह वर्तमान में लोगों की आवश्यकताओं को समझे इसके अलावा भविष्य में लोगों की क्या आवश्यकता हो सकती है यह जनना जरुरी है। एक पक्का बिजनेसमैन लोगों को जरुरत से ज्यादा देता है और उनकी आवश्यकताओं का हमेसा ख्याल रखता है।

8. टीम के साथ अच्छा व्यवहार बनाइये

किसी भी बिजनेस को बड़ा तब तक नहीं बनाया जा सकता जब तक उस बिजनेस में टीम मेंबर अच्छे ना हो। क्योंकि व्यापार से सफलता के पीछे केवल लीडर का ही नहीं बल्कि प्रत्येक टीम मेंबर का हाथ होता है। इसलिए अपने टीम के प्रत्येक लोगों से प्यार करें उन्हें समझे और उनसे अच्छा व्यवहार बनाकर रखे।

आखिरकार वे सभी आपकी family है। जो लगातार work करके आपके सपनों को सच करते हैं। अगर आप टीम के सभी लोगों से अच्छा संबंध रखते हैं तब वे दुगना उत्साह से कार्य कर सकेंगे।

9. अपने लक्ष्य को टीम व पार्टनर के साथ साँझा करें

चूँकि आपका टीम आपके परिवार के सामान है इसलिए अपने लक्ष्यों को अपने team को अवश्य बताएं। इससे वे आपके भावनाओं को समझ पाएंगे और सहीं दिशा में अपना effort लगाएंगे।

याद रखिये आपकी team आपकी ताकत है और team के सभी लोग एक ही दिशा में कार्य करेंगे तब आपको लक्ष्य प्राप्ति से कोई नहीं रोक सकता।

10 अपने टीम का उत्साह बढ़ाएं

व्यापार में टीम को हमेशा उत्साहित रहना बहुत ही ज्यादा जरुरी है। अपने टीम को रोजाना मोटीवेट करें, छोटी-छोटी प्रेरक प्रसंगों के माध्यम से या अन्य तरीकों से।

कई-कई बार छोटे मोटे लक्ष्य पुरे नहीं हो पाते इसके अलावा अत्यधिक काम तथा घर-परिवार, रिस्तेदार इत्यादि का टेंसन आपके टीम को डिमोटिवेट कर सकता है। ऐसे में आपका फर्ज बनता है कि उन्हे हमेसा मोटिवेट रखें, उनकी छोटी-छोटी खुशियों का ख्याल रखें।

सभी समस्याओं पर बात करके आपसी सहमति से सुलझाएं बिल्कुल एक परिवार के सामान।

11. अपने टीम द्वारा किये गए कार्यों की तारीफ करें

यह बात आप अच्छे से समझते होंगे की हमें पैसा कितना भी क्यों ना मिल जाये परन्तु लोगों द्वारा मिली तारीफ में जो सुकून है वो किसी और चीज में कहाँ। प्रत्येक व्यक्ति जो कार्य करता है वह अपने काम की तारीफ का भूखा होता है।

ऐसे में अपने टीम द्वारा किये गए कार्यो के लिए उनकी तारीफ अवश्य करें व उन्हें दिल से धन्यवाद दें। ऐसा करने पर आप पाएंगे की माहौल में चारों तरह पॉजिटिविटी और उत्साह है। team के लोगों में एक अलग एनर्जी है काम के प्रति। क्योंकि उन्हें अब केवल सैलरी ही नहीं बल्कि तारीफ भी मिल रही है।

12. व्यापार में सफलता का जश्न जरूर मनाए

जश्न मनाना इसलिए जरुरी है क्योंकि जब आप किसी लक्ष्य को टारगेट लेकर दिन-रात मेहनत करते हो और उसमे सफल होते हो। तब शारीरिक और मानसिक तनाव तथा फ्रस्टेशन को बाहर निकालने व शरीर को हल्का करने के लिए celebrate करना जरुरी है।

इसके अलावा अपने द्वारा किये गए मेहनत तथा लक्ष्य की प्राप्ति की ख़ुशी में जश्न मनाना आपके अंदर उत्साह और हौशला बढ़ाता है। अपनी सफतला का जश्न जरूर मनाये ताकि अगली जीत में इससे बेहतर मना सकें।

13. पैसों को केवल जरुरी जगहों पर खर्चे

कई बिजनेस अच्छा करने के बावजूद भी कुछ समय बाद असफल हो जाती है। जिसका एक सबसे बड़ा यह भी है कि वे पैसों की बेफिजूल में खर्चे करते हैं। व्यापार के दौरान पैसों को केवल जरुरी जगहों पर खर्च करें जिससे आपके business में तरक्की हो।

आप बेफिजूल के खर्चों से बचाये गए पैसों को बिजनेस के विज्ञापन में या प्रोडक्ट की क्वालिटी मेंटनेंस करने के लिए कर सकते हैं।

14. टीम के सभी लोगों से बात करें व उनकी बात सुने

टीम के प्रत्येक लोगों से बात करें तथा उनकी बात सुने इससे एक दूसरे को समझने में आसानी होगी तथा सभी का एक ही लक्ष्य होने के कारण अनेक प्रकार की ideas भी निर्मित होगी। क्या पता टीम के लोगों में आपके बिजनेस के लिए सबसे best आईडिया हो। इसलिए आपसी सहयोग से एक दूसरे को समझे, इससे काम आसान हो जायेगा।

निष्कर्ष

बिजनेस करना आसान नहीं है यह बहुत ज्यादा जोखिम वाला काम काम है परन्तु ठान लिया जाये तो बिजनेस मुश्किल भी नहीं है। बसर्ते आपके अंदर बिजनेस से संबंधित बेसिक गुण होना चाहिए, जैसे –

  • पर्याप्त पूजी होना चाहिए।
  • व्यापार संबंधित ज्ञान होना आवश्यक है।
  • बाजार का ज्ञान होना चाहिए।
  • व्यापार में सबसे ज्यादा जरुरी – धैर्य होना चाहिए।

व्यापार (business) संबंधित और अन्य प्रमुख बाते हैं जिनके बारे में हम आगे आने वाले लेख में पढ़ेंगे। इस लेख में हमने केवल व्यापार से संबंधित बेसिक टिप्स को बताया है।

अन्य पढ़ें

आखिर में

कमेंट बॉक्स के माध्यम से हमे बताये की हमारा लेख व्यापार की जानकारी (about business in hindi) आपको कैसा लगा। आर्टिकल को लोगों को शेयर करके और हमारे टेलीग्राम ग्रुप को join करके हमारा लिखना साकार करें – धन्यवाद,

Leave a Reply