Pickle and Chutney Business: अचार और चटनी का बिजनेस शुरू करें और लाखों कमाएं – पूरी जानकारी यहाँ से लें

Pickle and Chutney Business ideas : अचार और चटनी का उपयोग भारतीय भोजन में मुख्य रूप से किया जाता है. प्रायः-प्रायः पुरे भारत अचार और चटनी इन दोनों व्यंजनों को अपने भोजन में शामिल करता है.

चाहे यात्रा के दौरान हो या कार्यालय में या अन्य कहीं जाते हुए, लोग अपने टिपिन बॉक्स में प्रायः पराठे के साथ अचार रखते ही रखते हैं. यह हमारे भोजन ला जरुरी भाग है जो भोजन को स्वादिष्ट बनाता है.

अचार और चटनी का बिजनेस कैसे शुरू करें?

ताजे कच्चे आम अथवा नीबुओं को धोकर सामान आकर में छोटे-छोटे आकार में काट लिया जाता है. सुखाने के लिए धुप अथवा मशीन का उपयोग किया जाता है. इस दौरान इन्हे अम्लीकृत (Acidified) भी किया जाता है. उसके उपरांत मिर्च हल्दी राई आदि मशालों के साथ कटे टुकड़ों को मिलाकर पॉलीथिन के पैकेटों में भर दिया जाता है.

फिर इन पैकेटों को शील्ड कर देते हैं, उपयोग से पहले इन्हे रातभर के लिए पानी अथवा खाद्य तेल में रखा जाता है. इस उत्पाद के निर्माण हेतु उत्पादक को पी.एफ.ओ. लाइसेंस लेना अनिवार्य होता है.

अचार और चटनी के बिजनेस के लिए कच्चा माल

कच्चा-मालप्राप्त दिवस
आम मार्च-जुलाई
टमाटर जुलाई-अक्टूबर/दिसंबर-मार्च
हरी मीर्च वर्ष भर
गाजर जुलाई-फरवरी
नीबू दिसम्बर-मार्च/जुलाई-सितम्बर

नोट : कच्चा माल खरीदने के पश्चात उसे सुखाकर रख लेना चाहिए ताकि वर्ष भर इसका उपयोग किया जा सके.

Pickle and Chutney Business Ideas
Pickle and Chutney Business Ideas

अचार, चटनी के बिजनेस के लिए प्लांट की क्षमता और प्राप्तियां

क्षमता 250 kg रोजाना
कार्य दिवस 300 दिन
अधिकतम क्षमता 70%
वार्षिक उत्पादन 52.5 मैट्रिक टन
अनुमानित प्राप्ति Rs. 32.82 लाख

अचार पापड़ के बिजनेस के लिए आवश्यक उपकरण

  • विद्युत से चलने वाला सुखाने वाला यंत्र
  • ग्राइन्डर
  • हिट सीलिंग मशीन
  • फ्राइंग पैन
  • कंटेनर
  • स्टील के चाकू

अन्य उपकरण

  • स्टोरेज बैरल
  • स्टील प्लेट मढ़ी मेज
  • तराजू

अचार एवं चटनी के बिजनेस के लिए मौलिक आवश्यकता

  • मानवशक्ति
  • विद्युत (बिजली)
  • जल

बिजनेस का लोकेशन

शहरी क्षेत्र के निकट स्वस्छ जगह पर जहाँ बिजली पानी इत्यादि की सुविधा उपलब्ध हो.

अचार एवं चटनी के बिजनेस में माल बिक्री के लिए उपयुक्त जगह

अचार व चटनी की बिक्री के लिए बहुत ही व्यापक क्षेत्र है क्योंकि यह प्रायः सारे देश में उपयोग किया जाता है. बाहर से आकर भारत में निवास कर रहे लोगों के बीच भारतीय मसालों से बने अचार व चटनी अत्यंत लोकप्रिय है. अतः इस उत्पाद की निर्यात और इस बिजनेस की सफलता के अत्यधिक मौके हैं. इसके अलावा यह 2 से 3 साल के लम्बे अंतराल तक टिका रहता है. इसे सुरक्षित रखने के लिए किसी विशेष उपायों की आवश्यकता नहीं है.

अन्य बिजनेस आर्टिकल


आखिर में

हमे पूरी उम्मीद है कि आपको हमारा यह लेख…Pickle and Chutney Business Ideas (अचार और चटनी का बिजनेस शुरू करें और लाखों कमाए) पसंद आया होगा. कृपया करके इस लेख को अधिक से अधिक Shear करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इसका लाभ उठा सके. अगर लेख से संबंधित किसी प्रकार की शिकायत हो तो Comment Box के माध्यम से हमें अवश्य कहें.

अगर आप रोजाना इसी तरह के उपयोगी आर्टिकल पढ़ना चाहते हैं तो हमारे टेलीग्राम ग्रुप और जीमेल को सस्क्राइब कर ले जिसका लिंक नीचे दिया हुआ है. पढ़ने के लिए और हमारे घंटों की मेहनत को सफल बनाने के लिए – धन्यवाद.

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

Most Popular

close button