सुंदरता बढ़ाने के घरेलु उपाय (100% कारगर)| Beauty tips for face at home in hindi

Beauty tips for face at home in hindi : चेहरे की सुंदरता के लिए ना जाने हम कितने उपाय करते हैं. बाजार से यह खरीद लो, बाजार से वह खरीद लो, जिन उपायों के बारे में सुनते हैं उन्हें आजमा कर अवश्य देखते हैं. नतीजा…. केवल पैसे की बर्बादी.

ध्यान दिया जाए तो सुंदरता बढ़ाने के अनेक साधन हमारे घर में ही मौजूद हैं. जो हमारे त्वचा के लिए हानिकारक भी नहीं है. आमतौर पर बाजार से खरीदी गयी सौन्दर्य प्रसाधन की सामग्री हमारे त्वचा के लिए खतरनाक साबित हो सकती है. ऐसे में सुंदरता बढ़ाने के इन घरेलु उपायों को जरूर आजमाएं.

याद रखिये : आज जो भी सौन्दर्य प्रसाधन बाजार में मौजूद है. इनके निर्माण का तरीका हमारे घरेलु नुस्खों व प्राचीन तरीकों पर ही निर्भर है. परन्तु पहले इन नुस्खों को पूरी शुद्धता के साथ बनाया जाता था. अब तो केवल नाम का ही शुद्धता है बाकी सब कैमिकल का खेल है.

विषय-सूची

सुन्दरता के विषय में जबरजस्त विचार

भारतीय महिलायें अपनी सुंदरता और श्रृंगार की देखभाल उस समय से करती आ रही हैं. जिस समय न तो जगह-जगह ब्यूटी पार्लर हुआ करता था और न ही अनेक प्रकार के सुंदरता को बढ़ाने वाले डिब्बों में बंद कैमिकल व अप्राकृतिक प्रसाधन सामग्री मौजूद थे.

सुंदरता के लिए इससे ज्यादा और क्या कहूँ – साक्षात् उदाहरण के रूप में भारत के प्राचीन ग्रंथो और पत्थर की मूर्तियों मुद्राओं में भी सौन्दर्य (सुंदरता) का चित्र और वर्णन देखने को मिलता है.

बाजार से प्राप्त डिब्बों व शीशियों में भरी सुंदरता बढ़ाने के अधिकतर प्रसाधन नकली और त्वचा को हानि पहुंचाने वाली होती है. यह बाजारू सौन्दर्य प्रसाधनें कुछ समय के लिए झूठी चमक दिखाती है. प

रन्तु यह वास्तविक सुंदरता को उजागर नहीं कर सकती, इसलिए बाजारू प्रसाधनों के बजाय भारतीय जड़ी बूटियों और आयुर्वेदिक प्रसाधनों का प्रयोग करना चाहिए जो स्थायी सुंदरता, प्राकृतिक सुंदरता प्रदान करने में सहायक है.

जब सौन्दर्य प्रसाधन की सामग्री हमारे घर में हमारे रसोई में है. तो फ़ीर इन बाजारू प्रसाधनों का इस्तेमाल करके अपने त्वचा के साथ खिलवाड़ क्यों करना. जड़ी बूटियों, घरेलु नुस्खों व आयुर्वेदिक उपचारों में इतना प्रभाव है कि केवल पंद्रह दिन इस लेख में बताये गए नियमों का पालन करके उपचार किया जाए. फिर अपने शरीर पर हुए बदलाव आप स्वयं देख सकते हैं.

सुंदरता बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय व नुस्खे – Beauty tips for face at home in hindi

सुंदरता बढ़ाने के घरेलु नुस्खे के लिए हल्दी और बेसन को बराबर मात्रा में मिलाकर इसमें थोड़ा सा दूध और बादाम का तेल मिलायें, सबको एक साथ मिलाकर उबटन बना ले, याद रखिये ये उबटन आपके हजारों सीसी वाले सौन्दर्य प्रसाधन से बेहतर है.

इस उबटन को आप अपने चेहरे और हाँथ-पैर में लगाकर मालिश कर लें आपको कम से कम पंद्रह मिनट तक मालिश करनी है.

इसके बाद आप गुनगुने पानी से चेहरे और हाँथ-पैर को धो लें, एसा करने से पंद्रह दिन के अंदर आपको result मिलना प्रारम्भ हो जायेगा, आपके त्वचा के रंग में निखार आ जायेगा, आँखों के निचे का कालापन, हल्की झुर्रियां, चमड़ी का सुखपान आदि सब मिट जायेगा साथ ही साथ आपका रंग अगर सांवला है तो गोरे रंग (निखार) में परिवर्तित होने लगेगा और जो पहले से ही गोरे हैं उन्हें यह उबटन गुलाब की तरह महका कर रख देगा.

त्वचा का रंग साफ करने के लिए घरेलु उपाय व आयुर्वेदिक नुस्खे  

beauty parlour business

आप जानते है हमारे शरीर की चमड़ी में लाखों छोटे-छोटे रोम छिद्र होते हैं. इन रोम छिद्रों में धूल, गन्दगी और मैल भर जाता है जो साबुन आदि लगाने से भी साफ नहीं होता, जिससे चमड़ी (त्वचा) सांवला सा दिखाई देने लगता है.

इसके उपचार के लिए दूध में निम्बू निचोड़ कर अच्छे से फैटिये और नहाने से पहले इसे पुरे शरीर में लगाकर मलिये, इससे होगा यह कि पूरा उबटन शरीर के रोम छिद्रों में अंदर तक जायेगा और छिपे हुए मैल को बाहर निकाल देगा. 

उबटन मलने के कुछ समय के बाद तौलिये से शरीर को रगड़ कर पोंछ लीजिये और गर्म पानी से पुरे शरीर को धो डालिये, इसके बाद फिर से तौलिये की मदद से शरीर को पोंछ लीजिये जिससे शरीर से पानी हट जाये, फिर खुद को आईने पे देखिये चमड़ी (त्वचा) में हल्का गुलाबीपन लगेगा, इस तरह आप यह कार्य रोजाना दस दिन तक कीजिये फीर देखिये आपके शरीर में क्या बदलाव आता हैं.

फैलती हुई त्वचा को रोकने व त्वचा में कसावट लाने के लिए घरेलु नुस्खा

उम्र बढ़ने के साथ-साथ त्वचा फैलती जाती है और इसकी कसावट में कमी आ जाती है, यदि आप समय रहते कोई उपाय नहीं करते तो आगे चलकर चमड़ी लटकने लगती हैं.

इसके लिए आप यह उपाय करें कि बादाम के पावडर में चमेली के फूलों को घोंटकर शरीर में मलें इससे कुछ दिनों बाद लटकती हुई त्वचा में कसावट आ जाती है. यह एक प्रभावकारी उपाय है इससे आप शरीर को सुन्दर बना सकतें हैं.

त्वचा को मुलायम करने के घरेलु उपाय या नुस्खा

अत्यधिक गर्मी व सर्दी में रहने से चमड़ी सख्त व बेजान सी हो जाती है. ऐसी में चमड़ी (त्वचा) धीरे-धीरे काली पड़ती जाती है. इसके लिए उपाय में आप 200 ग्राम गुलाब की ताज़ी पंखुड़ियों को पानी में भीगा दें, और फ़ीर सुबह उठकर उस पानी से मल कर शरीर को धोना चाहिए इससे त्वचा नरम व मुलायम होती है और निखार आता है.

चेहरे के दाग धब्बे, मुंहासे व झांइयां मिटाने के घरेलु उपाय व आयुर्वेदिक नुस्खे – लाल टमाटर के रस में निम्बू निचोड़ कर थोड़ी सी मुल्तानी मिट्टी मिला दें, फ़ीर इस घोल से चेहरे को मलें, अब इस लेप को कम से कम पंद्रह मिनट तक चेहरे में रहने दें और फ़ीर गुनगुने पानी से धो लें, इतना करने से चेहरे में दिखाई देने वाले सभी दाग-धब्बे, मुहासे व झांइयां दूर हो जाता है, और चेहरा ताज़ा व स्वस्थ रहता है.

बालों को झड़ने से रोकने के लिए घरेलु उपचार व आयुर्वेदिक नुस्खे  

किसी व्यक्ति के सिर पर बाल उसके सुंदरता के लिए विशेष रूप से सहायक हैं क्योंकि लम्बे, काले, घने और चमकदार बाल किसी के भी सुंदरता को चार चाँद लगा सकतें है. बालों को लम्बा करने और झड़ने से रोकने के लिए मुल्तानी मिट्टी को पानी में भिगोकर एक घण्टे तक रख लेना चाहिए, उसके बाद उसमे मूंगफली का तेल मिलाकर एक रस कर बालों में लगाना चाहिए.

लेप लगाते हुए यह ध्यान दें की यह लेप पूरी तरह बालों में और बालों के जड़ों में गया के नहीं, जब पूरी तरह लेप लग जाये तो इसे कुछ देर के लिए ऐसे ही रहने दें, उसके पश्चात गुनगुने पानी से बालों को धो लें, इससे कुछ ही दिनों में बालों का झड़ना बंद हो जायेगा और बाल काले, लम्बे व चमकदार बनें रहेंगे.

गर्मियों व धुप में झुलसी त्वचा को गोरी करने के घरेलु उपाय व आयुर्वेदिक नुस्खें 

जब भी आप धुप से होकर घर आयें तो चेहरे को धोकर उस पर दूध में खीरे का रस मिलाकर मल दिया जाये और कुछ समय तक ऐसे ही रहने दें, फिर धो ले इससे धुप में झुलसी हुई त्वचा साफ़ हो जाती है और त्वचा के रंग में निखार आता है.

सर्दियों में हाँथ-पैर को फटने से रोकने के लिए घरेलु उपाय व आयुर्वेदिक नुस्खें

सर्दियों के मौसम में काम करने से हाँथ व पैरों की चमड़ी फटने लगती है। जो की सुंदरता के लिए ठीक नहीं है, इसके उपाय के लिए सबसे पहले हाँथ पैर को गुनगुने पानी से साफ़ कर उस पर निम्बू रस मिला हुआ बादाम का तेल लगाने से फटी हुई त्वचा ठीक हो जाती है.

होंठ के फटने पर घरेलु उपाय व आयुर्वेदिक नुस्खें 

रोजाना दो बून्द सरसों का तेल लेकर नाभि में मलें, कुछ ही दिनों में आप देखोगे की होंठ फटना बंद हो गया और चेहरे में चमक आ गयी.

सुंदरता बढ़ाने के लिए इन बातों का विशेष ध्यान दें

  • भोजन अत्यधिक न करें, कम भोजन करें जिससे आपका पेट साफ रहे.
  • शाम को सोते समय हरड़, बहेड़ा और आंवला का मिला हुआ चूर्ण एक चम्मच गुनगुने पानी के साथ ले, इससे कब्ज नहीं रहेगा और सुंदरता बनी रहेगी.
  • रोजाना व्यायाम करना चाहिए जिसमे मुख्य रूप से प्राणायाम, हलासन, चक्रासन, धनुरासन, भुजंगासन और नौकासन आवश्यक है.
  • रोजाना कम से कम 3 लीटर पानी पीना आवश्यक है इससे सुंदरता बरकरार रहती है और चेहरे में चमक बनी रहती है. आंवले का अचार या रोजाना एक आवला खाना चाहिए यह आँखों के साथ-साथ शरीर के ताकत के लिए आवश्यक हैं.
  • अपना पूरा-पूरा ख्याल रखिये और चाय, काफी, से परहेज कीजिये.

—–***—–

ऊपर बताए गए सुंदरता बढ़ाने के इन तरीकों (Beauty tips for face at home in hindi) को अपने life style में अवश्य शामिल करें, beauty tips in hindi यह आज के कैमिकल निर्मित सौन्दर्य प्रसाधनों से लाख गुना बेहतर है – धन्यवाद.

अन्य पढ़ें

RELATED ARTICLES

Leave a Reply

Most Popular

close button