अम्लीय वर्षा या अम्ल वर्षा क्या है सम्पूर्ण अध्ययन | what is acid rain in hindi

acid rain in hindi : एसिड रैन यानि अम्ल वर्षा… वैसे तो यह प्राकृतिक रूप से होने वाली वर्षा है परन्तु इस वर्षा में अम्ल (acid) की मात्रा अधिक होने के कारण इसे अम्ल वर्षा कहते हैं.

जैसा की हमने अपने कई लेख में बताया है कि…अनेक प्रकार की बीमारियां व प्रदूषणों का प्रमुख कारण मनुष्य ही है. वैसे ही अम्ल वर्षा (acid rain) भी पूरी तरह मनुष्यों के क्रिया-कलापों का ही नतीजा है.

वाहनों, कारखानों इत्यादि से निकला हुआ धुँआ वायु प्रदूषण के साथ-साथ अम्ल वर्षा (acid rain) का भी महत्वपूर्ण कारण है. आज के इस टॉपिक में हम अम्ल वर्षा क्या है (what is acid rain hindi) का सम्पूर्ण अध्ययन करेंगें – इसलिए कृपया करके यह लेख पूरा पढ़ें –

विषय-सूची

अम्ल वर्षा क्या है – what is acid rain in hindi

यह प्राकृति रूप से होने वाली वर्षा है जिसमे सल्फर डाई ऑक्साइड और नाइट्रोजन ऑक्साइड की अधिकता के फलस्वरूप वर्षा का जल अम्लीय (acidic) हो जाता है, यही अम्ल वर्षा (acid rain) कहलाता है.

अम्ल वर्षा से पर्यावरण तथा पर्यावरण में उपस्थित सभी सजीव एवं निर्जीव प्राणियों को भारी नुकसान एवं क्षति पहुँचता है. उदाहरण के तौर पर – ताजमहल का उधड़ता हुआ रंग, अम्ल वर्षा (acid rain) का ही नतीजा है. जिसे ताजमहल का कैंसर भी कहा जाता है.

अम्ल वर्षा की परिभाषा – definition of acid rain in hindi

मानवीय क्रिया कलापों के कारण, बढ़ता हुआ वायु प्रदूषण तथा विषैले गैसों (SO2 और NO2) का बादलों में मिल जाना फिर बारिस के माध्यम से उन अम्लों का गिरना अम्लीय वर्षा कहलाता है.

साधारणतः प्राकृतिक रूप से होने वाली वर्षा उदासीन या कम अम्लीय होता है. क्योंकि इसमे कार्बन डाई ऑक्साइड की अल्प मात्रा होती है. इसका PH मान 5.5 से 5.7 होता है…. जो अल्प रूप से अम्लीय है.

परन्तु वर्षा कराने वाले बादलों में Sulfur dioxide (SO2) व Nitrogen Dioxide (NO2) मिल जाने के कारण वर्षा जल का PH मान 6 से नीचे गिरकर 4 तक चला जाता है. फलतः यह जल उदासीन या कम अम्लीय से अधिक अम्लीय हो जाता है और यही अम्ल वर्षा कहलाता है. जो जीव समुदाय के लिए बहुत बड़ा खतरा है.

वायुमण्डल में निहित खतरनाक रासायनिक तत्व बादलों के जल में मिलकर उसे अम्लीय बना देते हैं. यही जल जब धरती पर गिरती है तो इसे अम्ल वर्षा कहते हैं.

अम्ल वर्षा का कारण – cause of acid rain in hindi

अम्ल वर्षा का प्रमुख कारण मनुष्यों द्वारा फैलाये जाने वाला प्रदुषण है. जैसे – वाहनों से निकला हुआ धुवाँ, कारखानों फैक्ट्रियों इत्यादि से निकला प्रदूषित धुवाँ. (जिनमे अधिक मात्रा में सल्फर डाई ऑक्साइड तथा नाइट्रोजन ऑक्साइड) होता है.

बादलों में जाकर जल के साथ मिल जाते है तथा जल वाष्प की अम्लता को अधिक कर देते हैं. सामान्य बारिस की अपेक्षा इस बारिस में अम्ल की अधिकता पाए जाने के कारण इसे अम्ल वर्षा कहते हैं.

अम्ल वर्षा में मुख्य रूप से पाए जाने वाले गैस निम्न हैं –

  • सल्फ्यूरिक अम्ल, इसकी मात्रा 60 से 70 प्रतिशत तक होता है.
  • नाइट्रिक अम्ल, यह 30 से 40 प्रतिशत तक होता है.
  • हाइड्रो क्लोरीन अम्ल

अम्ल वर्षा के प्रकार – types of acid rain in hindi

अम्ल वर्षा के 2 प्रकार होते हैं –

  • शुष्क अम्ल वर्षा
  • नम अम्ल वर्षा

1. शुष्क अम्ल वर्षा क्या है – what is dry acid rain in hindi

शुष्क अम्ल वर्षा में सल्फर डाई ऑक्साइड और नाइट्रोजन ऑक्साइड हवाओं व धूल के कणों के माध्यम से वातावरण में मिल जाते हैं, तथा वातावरण की अम्लीयता को बढ़ाते हैं शुष्क अम्ल वर्षा कहलाते हैं.

2. नम अम्ल वर्षा क्या है – what is moist acid rain in hindi

जब SO2 व NO2 गैंस बादलों के जल में घुलकर उसे अत्यधिक अम्लीय बना देते हैं तब बादलों से होने वाली बारिस अम्लीय वर्षा कहलाती है.

अम्लीय वर्षा का सूत्र – acid rain formula in hindi

  • SO2 (सल्फर डाई ऑक्साइड) + H2O (जल) = H2SO4 (सल्फ्यूरिक एसिड)
  • NO2 (नाइट्रोजन ऑक्साइड) + H2O (जल) = HNO3 (नाइट्रिक अम्ल)

अम्ल वर्षा के हानिकारक दुष्प्रभाव – harmful side effects of acid rain in hindi

जैसा कि बताया गया है अम्ल वर्षा के सजीव और निर्जीव दोनों पर हानिकारक प्रभाव डालता है. जिनकी सूची नीचे दी गई हैं –

  • अम्ल वर्षा सा सबसे अधिक गहरा प्रभाव पेड़-पौधे में देखने को मिलता है. पेड़ों के पत्ते पीले होकर धीरे-धीरे झड़ने लगते हैं. अंततः पेड़ भी जीवित नहीं रह पाता.
  • अम्ल वर्षा के कारण अनेक देशों के जंगल समाप्त हो गए तथा विभिन्न प्रकार की जंगली प्रजातियाँ भी नष्ट हो गयी.
  • भवनों और इमारतों के लिए भी अम्ल वर्षा एक बुरा परिणाम है. ताजमहल का चमक पहले की अपेक्षा फीकी पड़ती जा रही है. इसका प्रमुख कारण अम्ल वर्षा ही है.
  • कई धातुओं पर भी अम्ल वर्षा का बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है, ताम्बे और एल्युमिनियम के बर्तन में इससे क्षरण पैदा हो जाती है.
  • अम्ल वर्षा से मिटटी की उर्वरा शक्ति क्षीण होती है. किसी भी प्रकार की फसल उगने की क्षमता समाप्त हो जाती है. उत्पादकता में कमी आ जाती है.
  • अम्ल वर्षा जल का माध्यम है इसलिए जल से संबंधित जगहों के लिए यह बहुत ही खतरनाक साबित होता है, नदी तालाबों, सागरों से मछली तथा विभिन्न प्रकार के अन्य प्रजातियों का समाप्त होना अम्ल वर्षा की ही देंन है. जिन जिन पानी के स्त्रोतों को मृत झील का दर्जा दिया गया है. वहां के जलीय जीव अम्लीय वर्षा के कारण ही समाप्त हुए हैं.
  • अम्ल वर्षा से त्वचा के चमड़ी पर जलन होती है.
  • मनुष्यों पर अम्ल वर्षा का सीधा प्रभाव ना हो तब भी पारिस्थितिकी तंत्र के माध्यम से यह प्रभाव मनुष्यों तक पहुंच जाता है. जैसे अम्ल वर्षा (acid rain) से सिकार मछली को अगर मनुष्य खाता है. तब मनुष्य को अनेक प्रकार के नुकसान उठाने पड़ सकते हैं. क्योंकि मछली के शरीर में अनेक प्रकार के एसीड (acid) मौजूद होंगें.
  • मनुष्य पीने के पानी के रूप में अम्लीय जल का प्रयोग करता है, इससे विभिन्न प्रकार की बीमारियां होना तय हो जाती है. आँखों में जलन, स्वास लेने में परेशानी, त्वचा संबंधित रोग, कैंसर इत्यादि खतरनाक बीमारियां अम्लीय जल के सेवन से हो सकती हैं.

अम्ल वर्षा के नियंत्रण व रोकथाम के उपाय – control of acid rain in hindi

अम्ल वर्षा के नियंत्रण के लिए निम्न उपाय किये जा सकते हैं.. सूची देखें –

  • एसिड रैन नियंत्रण का सबसे मजबूत और कारगर उपाय यही होगा कि.. जिन माध्यमों से अम्ल वर्षा के लिए उत्तरदायी, रासायनिक तत्व निकलते हैं उन माध्यमों को ही बंद कर दिया जाए. जैसे वाहनों और फैक्ट्रियों से निकलने वाली गैंस.
  • जितना हो सके हम अपने पर्यावरण को सुरक्षित और स्वस्थ रखें. तभी हम स्वस्थ रह पायेंगें.
  • हमें ऊर्जा के सुरक्षित व प्राकृतिक तरीकों जैसे- सोलर ऊर्जा, पवन ऊर्जा इत्यादि का प्रयोग करना चाहिए.
  • आद्यौगिक क्षेत्रों और वाहनों में कुछ ऐसे फ़िल्टर यंत्र लगाएं जाये जिनसे निकलने वाले रासायनिक तत्वों पर नियंत्रण किया जा सके या उन्हें समाप्त किया जा सके.
  • acid rain के सन्दर्भ में जगह-जगह जागरूकता अभियान चलाकर, ताकि पर्यावरण में होने वाले प्रदूषणों को कम किया जा सके.
  • मानव द्वारा उपयोग में लाये जाने वाले उन चीजों का उपयोग बहुत कम करके जो प्रदुषण एवं अम्लीय वर्षा के उत्तरदायी है. जैसे- AC का कम उपयोग करें, ऊर्जा के साधनों का बचाव करें, बिजली बचाएं इत्यादि.
  • सरकार द्वारा ठोस कदम उठाकर, व सख्त से सख्त नियम बनाकर.

भारत में अम्ल वर्षा – acid rain in india

चुकि भारत की भूमि क्षारीय प्रवृति की है इसलिए अम्ल वर्षा के प्रभाव को समाप्त या उदासीन कर देती है. इस हिसाब से देखा जाये तो अन्य क्षेत्रों के मुकाबले भारत में अम्ल वर्षा ज्यादा प्रभावशील नहीं है.

परन्तु स्थिति ऐसी ही बनी रही और हम प्रदुषण के प्रति जागरूक नहीं हुए. तो वह दिन दूर नहीं जब भारत भी अम्ल वर्षा (acid rain) की समस्या से ग्रस्त ना हो.

FAQ

प्रश्न : अम्लीय वर्षा के जल का pH मान कितना होता है?

उत्तर : अम्लीय वर्षा का ph मान 4 या 4 से कम होता है.

प्रश्न : अम्लीय वर्षा किसका मिश्रण होता है?

उत्तर : अम्लीय वर्षा सल्फर डाई ऑक्साइड और नाइट्रोजन ऑक्साइड का मिश्रण है.

प्रश्न : अम्लीय वर्षा क्या है इन हिंदी?

उत्तर : प्राकृतिक रूप से होने वाली वर्षा के जल में SO2 तथा NO2 का मिलना और जल का अधिक अम्लीय होना अम्लीय वर्षा कहलाता है.

प्रश्न : अम्ल वर्षा कब होती है?

उत्तर : जब सल्फर डाई ऑक्साइड और नाइट्रोजन ऑक्साइड का वर्षा के जल में मिश्रण होता है तथा जल का PH मान 4 या उससे कम हो जाता है तब अम्ल वर्षा होती है.

प्रश्न : अम्ल वर्षा क्या है in Hindi?

उत्तर : खतरनाक रासायनिक तत्वों का बादलों के जल में मिल जाना और जल के PH मान को कम कर देना, कम PH मान के साथ होने वाली वर्षा – अम्ल वर्षा कहलाती है.

प्रश्न : अम्लीय वर्षा से क्या दुष्परिणाम देखे जा सकते है?

उत्तर : अम्लीय वर्षा से सजीव व निर्जीव दोनों बुरी तरह से प्रभावित होते हैं पेड़ों का नस्ट होना, छोटे जीवों कीड़े मकोड़े का नष्ट होना, त्वचा का जलना, ताजमहल का क्षरण इत्यादि इसके उदाहरण हैं.

प्रश्न : सर्वाधिक अम्ल वर्षा कहां होती है

उत्तर : जिन देशों में प्रदूषण की अधिकता पायी जाती है उन देशों में अम्ल वर्षा अधिक होती है जैसे – स्वीडन तथा फिनलैण्ड, ब्रिटेन यूरोप इत्यादि.

प्रश्न : अम्लीय वर्षा की खोज किसने की

उत्तर : अम्लीय वर्षा की खोज सन 1852 में रोबर्ट एंगस स्मिथ ने की थी.

प्रश्न : अम्लीय वर्षा का प्रमुख कारण क्या है?

उत्तर : अम्ल वर्षा का प्रमुख कारण सल्फ्यूरिक एसिड तथा नाइट्रिक अम्ल है.

अम्ल वर्षा को वीडियो के माध्यम से समझें – understand acid rain through video

आखिर में

हमें उम्मीद है कि आपको हमारा यह लेख – अम्ल वर्षा क्या है सम्पूर्ण जानकारी (what is acid rain in hindi) पसंद आया होगा. लेख पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ अवश्य shear करें ताकि वे भी इस लेख का फायदा उठा सकें..

हम लगातार आपके लिए ऐसे लेख लाते रहेंगे जो पूरी तरह से लाभदायक हो .. इसलिए आप हमारा सहयोग कर सकते हैं. टेलीग्राम ग्रुप और जीमेल को join करके जो बिल्कुल ही फ्री है. और हमेसा – informationunbox.com पर आते रहें.

किसी भी प्रकार की शिकायत, सलाह, व सुझाव के लिए comment box का उपयोग करें- धन्यवाद,

अन्य पढ़ें

Leave a Comment