कहीं आपके बच्चे में दब्बूपन तो नहीं है? | बच्चों की परवरिश कैसे करे tips

कहीं आपके बच्चे में दब्बूपन तो नहीं है ?
कहीं आपके बच्चे में दब्बूपन तो नहीं है ?

जैसे बिना ढील दिए कोई पतंग नहीं उड़ती, वैसे ही बिना छूट दिए कोई बच्चा चलना नहीं सीखता, आपको अपने बच्चे को पंख देना है, उड़ना तो वह खुद ही सिख जाएगा.

परवरिस और पतंगबाज़ी में ज्यादा फर्क नहीं है, दोनों में ढील देना आवश्यक है. साथ ही कितने पर खींचना है यह मालुम होना चाहिए, नहीं तो कटने का भी खतरा रहता है.

आप ढील नहीं दोगे तो पतंग उड़ेगी नहीं,,, ठीक उसी प्रकार आप बच्चे को स्वतंत्रता नहीं दोगे तब वह अपने सपनो के पीछे भागना नहीं सीख पायेगा. वैसे भी बिना संस्कार के सफलता सजती भी नहीं है. इसलिए बच्चे को अच्छे संस्कार देना भी अनिवार्य है.

परन्तु इस बात का विशेष ध्यान रखें कि कही नम्रता के आड़ में आपका बच्चा दब्बू तो नहीं होता जा रहा है.

विनम्रता एक आभूषण है. जो प्रत्येक व्यक्ति पर सजता है. इसे सिखाने की शुरुआत शिष्टाचारों की मुलभुत सिद्धांतों से होती है. इसलिए प्लीज्, थैंक्यू, धन्यवाद जैसे शब्दों का प्रयोग आवश्यक है. और शिष्टाचार सिर्फ बड़ों के साथ ही नहीं अपने मित्रो, बड़े भाई बहनों बुजुर्गो आदि के साथ भी इसका प्रयोग करना आना चाहिए.

एक बच्चा शिष्टाचार अपने माता-पिता से ही सीखता है. अगर माता-पिता का आचरण व्यवहार ठीक रहेगा तब बच्चे को बताना भी नहीं पड़ेगा वह खुद ब खुद सिख लेगा.

ज्यादातर माँ-बाप बच्चे को शिष्टाचार सीखाने के चक्कर में उनके साथ सख्ती बरतने लगते है. ऐसे में बच्चे घबराने लगते है. कई बार बच्चो का शर्मीलापन और संकोची व्यवहार अपनी भावनाओ को छुपाने का एक आवरण होता है. गौर कीजिये ऐसा उन घरो में होता है. जहा बच्चे की बार-बार किसी दूसरे बच्चे से तुलना की जाती है और उन्हें ताना मारा जाता है.

याद रखें की बच्चे के परवरिश में आपके पास दो मार्ग है, एक ओरप्रशंसा और उत्साह वर्धन तो दूसरी ओर ताना और तुलना. आप अगर प्रशंसा चुनते है तो बच्चे की जिंदगी को आसमान की उचाईयों में उड़ने देंगे, और ताना उसके मन को निरास कर देगा.

उसका दिल टूट जाएगा, इसलिए बच्चे को जब भी ताना दे, अत्यंत सावधान रहे क्योंकि उसका कोमल मन आहत होने वाला है, परन्तु कभी-कभी ऐसा भी होता है की आप की डांट फटकार से आपका बच्चा मंज़िल की ओर दुगनी गति से बढ़ता है.

बच्चों की परवरिश और दब्बूपन के उपचार के लिए इन तरीकों को अपनाएं –

1. बच्चो में आत्मविश्वास कम क्यों है

बच्चे का दब्बूपन यह बताता है की उसे अपने ऊपर विश्वास की कमी है, उसके मन में हमेसा यह ख्याल रहता है की वह जो भी कार्य करता है वह अच्छा नहीं होता है, उसे हमेसा लगता है की द