नीति कथा – विश्वास सोंच समझ कर करें | नन्ही गिलहरी ने सागर पे पुल बांधा