प्रेम क्या है? | What is Love in hindi

What is Love in hindi
What is Love in hindi

What is Love in hindi : जब-जब प्रेम की बात आती है उसमे राधा और कृष्ण का वर्णन जरूर होता है. क्योंकि राधा और कृष्ण का संबंध – पवित्र प्रेम, धैर्य, भक्ति और भाव का महासागर है. राधा का प्रेम शारीरिक सुख और भोग-विलास से कोसो दूर था, उन्होंने कभी नहीं चाहा की वह श्री कृष्ण की महारानी बन जाये, उन्हें भौतिक साम्राज्य की जरा भी लालसा नहीं थी.

वह तो श्री कृष्ण के हृदय की अधिकारिणी बनना चाहती थी और बनी भी. इसीलिए तो ब्रज की धूलि में आज राधा के दर्शन होते हैं. जब वर्षा होती है तो वर्षा की टिप-टिप में राधा की ध्वनि सुनाई देती है. पेड़ों की आहाट में राधा का संगीत गूंजता है. गोवर्धन पर्वत तो आज भी उनकी विरह में समाधि लगाए बैठा है. यमुना नदी की तरंगें आज भी राधा-राधा का जाप कर रही है.

प्रेम का मतलब क्या है – What is Love in hindi

प्रेम के बिना जीवन एक ऐसे वृक्ष के सामान है जिस पर ना कोई फूल हो और ना कोई फल, प्रेम के बिना सौन्दर्य ऐसे पुष्प के सामान है जिसमे कोई सुगंध ही नहीं है. क्योंकि प्रेम आत्मा से होता है शरीर से नहीं और जो दूसरों से प्रेम करता है वही अपने-आप से प्रेम कर सकता है और सच्चा प्रेम मन की आँखों से देखता है.

प्रेम ही स्वर्ग का मार्ग है. प्रेम ही पूजा है. प्रेम एक ऐसी तपस्या है जो वक्त के साथ मनुष्य को हीरे के सामान अमूल्य और श्रेष्ठ बना देता है. जो व्यक्ति अपनी दिन की सुरुवात प्रेम से करता है उसके लिए वह दिन जीवन का सर्वश्रेष्ठ दिन बन जाता है. याद रखें – जहाँ सच्चा प्रेम है वहां दर्द भी है, पीड़ा भी है और विरह या जुदाई भी.

परन्तु सच्चा प्रेम हो तो दुःख में भी आनंद है. प्रेम तो मनुष्य के रोम-रोम से प्रकट होता है. उसके आखों से, उसके भावों से और जब मनुष्य प्रेम को पा लेता है तब वह ईश्वर को भी प्राप्त कर लेता है.

सच्चे प्यार का मतलब क्या होता है?

सच्चा प्यार का मतलब निःस्वार्थ प्रेम से है. किसी से प्रेम के बदले कुछ भी आशा ना करना और दूसरे की (जिनसे प्रेम है) की खुशी में खुश रहना एक सच्चे प्यार का मतलब है.