म्यूचुअल फंड में हम स्वयं स्टॉक या शेयर ना खरीदकर संपत्ति मैनेजमेंट कंपनी के माध्यम से यह कार्य करवाते हैं 

म्यूचुअल फंड में लगाए गए पैसों को एसेट मैनेजमेंट कंपनीयां  मैनेज करती है और कई प्रकार के शेयरों में निवेश करती हैं

अगर आप उनमे से है जो स्टॉक खरीदने व बेचने के झंझट से बचते हैं और एक सुरक्षित निवेश चाहते हैं तब आपके लिए यह बेस्ट हो सकता है.

गलत म्यूचुअल फंड के चुनाव से नुकशान उठाना भी पड़ सकता है

म्यूचुअल फंड में आप एकमुश्त यानी लमसम  व  मासिक अर्थात सिप में निवेश कर सकते हैं

शेयर खरीदने के लिए डीमेट अकाउंट होना आवश्यक है परन्तु म्यूचुअल फंड के लिए नहीं 

सेविंग और फिक्स डिपाजिट की तुलना में म्यूचुअल फंड से अधिक रिटर्न प्राप्त किया जा सकता है

म्यूचुअल फंड अनेक प्रकार के होते हैं जैसे -  इक्विटी फंड, डेट फंड, हाइब्रिड फंड, समाधान-उन्मुख निधियां, इंडेक्स फंड जैसे अन्य फंड

म्यूचुअल फंड की बेहतर जानकारी के लिए इस आर्टिकल पर जाएँ